क्या आपने लिया मोदी की इन योजनाओ का लाभ

52

भारत को डिजिटल बनाने के मुख्य उद्देश्य से सतत कार्य कर रहे भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज के समय में जनता के लिए कई सारी योजनाए प्रारम्भ की है. जिसमे कई योजनाए विफल रही तो कुछ योजनाओ का जनता ने भरपूर लाभ उठाया. विपक्षी दल फिर भी मोदी सरकार की कमियों को ही गिनवा रहा है. गिनवाए भी क्यों नहीं विपक्षी टीम का और काम ही क्या होता है. मोदी के शासन में आज बीजेपी को तीन वर्ष से अधिंक हो गए है. लेकिन आज भी मोदी सरकार जनता की सुविधा को ध्यान में रखते हुए कई तरह की योजनाए प्रारम्भ कर रही है. आज हम आपको बताएँगे की मोदी सरकार ने अब तक कौन – कौन सी योजनाए प्रारम्भ की है.

स्वच्छ भारत अभियान योजना :
2014 को 2 अक्टूबर से भारत को स्वच्छ करने के उद्देश्य से मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी. जिसमे मोदी सरकार की इस योजना के अंतर्गत महात्मा गाँधी की 150 वी जयंती पर  2019 तक भारत को पूर्ण रूप से स्वच्छ करने का संकल्प किया गया है. .जिस व्यक्ति के घर शौचालय नहीं है उन्हें स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण करवा कर देना. मोदी सरकार ने अब तक कुल 13 लाख से ज्यादा शौचालय निर्माण करवा दिए है.

जन धन योजना :
नरेंद्र मोदी ने इस योजना को 2014 में प्रारम्भ किया था. जिसके अंतर्गत हर व्यक्ति का बैंक में खाता हो. तथा देश के सभी व्यक्तियों को सरकार की योजनाओ का लाभ मिल सके. मोदी सरकार की इस योजना के तहत आप जीरो बेलेंस से भी बैंक में खाता खुलवा सकते है.

मेक इन इण्डिया योजना :
मोदी की यह योजना जिस उद्देश्य के लिए लागु की गई थी वह कामयाब नहीं हुई. मोदी की यह योजना काफी महत्वकांशी योजना है. मोदी का इस योजना को प्रारम्भ करने का मुख्य उद्देश्य विदेशी निवेश को अत्यधिक बढ़ावा देना था. किन्तु मोदी की यह योजना विफल हो गई.

स्किल इण्डिया योजना :
इस योजना के अंतर्गत युवाओ को प्रशिक्षण देना ही लक्ष्य था. मोदी की इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के युवाओ को रोजगार के लिए योग्य बनाना. मोदी ने 2022 तक 40.2 करोड़ युवाओ को रोजगार युक्त बनाना.

डिजिटल इण्डिया योजना :
मोदी ने संकल्प लिया है की शहर ही न नहीं बल्कि हर गांव में इंटरनेट की सुविधा होगी. शहरो के साथ गांव भी डिजिटल बनेंगे. डिजिटल इण्डिया में सभी गांव में कई प्रकार की टेक्नोलॉजी तकनिकी सुविधा को पहुँचाना ही अहम् लक्ष्य है. मोदी ने इस योजना को 1 जुलाई 2015 को लॉन्च किया गया था.

स्मार्ट सिटी योजना :
स्मार्ट सिटी के अंतर्गत 100 शहरो को स्मार्ट सिटी की श्रेणी में रखा गया है. स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत सभी शहरो को सर्व सुविधायुक्त बनाना. परिवार को सभी जरुरी सुविधाएं मुहैया करना.

स्टार्टअप योजना :
जो व्यक्ति नया बिजनेस शुरू करना चाहते है लेकिन पैसो की कमी के कारण वह किसी भी तरह से नया काम प्रारम्भ नहीं कर सकते है . उनके लिए सरकार ने स्टार्टअप योजना का शुभारम्भ किया है. इस योजना का लाभ लेकर आप यूनिक काम कर सकते है. सरकार ने बिजनेस शुरू करने के लिए कई तरह की छूट दी है. सरकार इस योजना में अधिक से अधिक युवाओ को जोड़ने का प्रयास कर रही है.

उदय योजना :
इस योजना के अंतर्गत सरकार का प्रयास हर गांव में बिजली मुहैया कराना.सरकार इस योजना से हर गांव में प्रतिदिन 10 से 15 गांव में बिजली पंहुचा रही है.

उज्ज्वला योजना :
महिलाओ की परेशानी को देखते हुए सरकार ने इस योजना को प्रारम्भ किया है. जो परिवार बीपीएल श्रेणी में आता है उन्हें मुफ्त एलपीजी मुहैया करना ही इस योजना का उद्देश्य है.

प्रधानमंत्री आवास योजना :
गरीब परिवारों को मकान मुहैया कराना जिससे भारत देश गरीबी से मुक्त हो सके. इस योजना में सरकार का लक्ष्य 2022 तक 2 करोड़ आवास बनाने का है . गरीबो को कच्चे घर से अच्छे मकान दिलवाना इस योजना का मुख्य लक्ष्य है.

मुद्रा योजना :
जो छोटे व्यापारी है उन्हें इस योजना से अपना कारोबार प्रारम्भ करने की सुविधा दी जाती है. व्यापारी अपने व्यापार से बड़ा सोच कर 50000 से 10 लाख तक लोन देने का काम यह योजना करती है.

ईपीएफ सुधार योजना :
मोदी सरकार ने इस योजना का शुभारम्भ कर्मचारियों के हित के लिए किया  है. यदि कर्मचारी अपनी नौकरी बदलना चाहता है तो उसे अपने PF  अकाउंट  में किसी भी तरह के बदलाव करने की आवश्यकता नहीं होती है. साथ ही कर्मचारियों को पीएफ खाते में ट्रांजेक्शन के लिए आसान सुविधा प्रदान करना है.

नमामि गंगे :

मोदी सरकार ने गंगा की सफाई के लिए 20 हजार करोड़ का बजट बनाया है. इस योजना में सरकार का लक्ष्य 2018 तक गंगा को पूर्ण रूप से स्वच्छ करना है. गंगा के जल को एक बार पुनः स्वच्छ करना ही सरकार का इस योजना के तहत लक्ष्य है.

बुलेट ट्रेन योजना :
भारत में बुलेट ट्रेन चलाने के लिए जापान से मोदी ने किया समझौता. बुलेट ट्रेन के लिए सरकार ने कॉरिडोर के लिए 98 हजार करोड़ का बजट तैयार किया है. इस योजना के पहले चरण में मोदी सरकार मुंबई से अहमदाबाद तक बुलेट ट्रेन को चलाएगी.

प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना :
प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना के अंतर्गत यदि आपकी दुर्घटना में मौत होती है या फिर शरीर का कोई अंग दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो जाता है तो आपको इस योजना के तहत एक लाख रूपये मिलेंगे.

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना :
इस योजना का लाभ 18 से 50 साल के व्यक्ति लाभ ले सकेंगे. इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको प्रतिदिन एक रूपये के हिसाब से साल का 330 रूपये की प्रीमियम देनी होगी.

Comments are closed.